अनुमान मुताबिक कांग्रेसी नेता कुलदीप बिश्नोई पत्नी रेणुका बिश्नोई संग भाजपा में शामिल हो गए हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष जे पी नड्डा की हाजरी में बिश्नोई और पत्नी ने भाजपा का दामन थामा । इसके बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश अध्यक्ष ओ पी धनकड़ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दोनों विधायकों का विधिवत् ढंग से स्वागत किया।

बिश्नोई अपने पिता और मरहूम पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल की पार्टी जनहित कांग्रेस का विलय कर कांग्रेस में शामिल हुए थे और चुनाव जीते थे। पिछले काफी अरसे से बिश्नोई कांग्रेस में उच्च स्तर के पद प्रदेशाध्यक्ष की कुर्सी के लिए भी दावेदार थे। लेकिन प्रदेशाध्यक्ष न बनाए जाने से क्षुब्ध बिश्नोई ने राष्ट्रपति चुनाव में कांग्रेस के मुताबिक वोट न कर अपनी  ‘अंतरात्मा ‘ के मुताबिक वोट डाला।  बिश्नोई के तेवर साफ थे कि अब वो ज़्यादा अरसा कांग्रेस में रहने वाले नहीं थे।